Wednesday, July 16, 2014

ज्योतिष और वास्तु टिप्स
++ किचन अर्थात रसोईघर में गैस का चूल्हा या खाना पकाने का स्टोव सदैव आग्नेय कोण [दक्षिण-पूर्व दिशा] में ही रखना चाहिए।
++ किचन में अनाज का भंडारण करना हो तो उसके लिए आग्नेय कोण और ईशान कोण [उत्तर-पूर्व दिशा] के बीच में पूर्वी दीवार के पास भंडारण करना उचित रहता है।
++ किचन में पूजा स्थल या मंदिर नहीं बनवाना चाहिए।
++ किचन में पानी का स्त्रोत और अग्नि से संबन्धित गैस चूल्हा को पास-पास नहीं रखना चाहिए।
++ किचन में भोजन पकाते समय पूर्व या उत्तर दिशा में मुख रहना चाहिए।