Sunday, April 6, 2014

डायबिटीज़ पर दो दिवसीय कॉन्फ्रेंस

    रिसर्च सोसाइटी फॉर स्टडी ऑफ़ डायबिटीज़ इन इण्डिया के उत्तर प्रदेश चैप्टर द्वारा दो दिवसीय कॉन्फ्रेंस का शुभारम्भ 05 अप्रैल, 2014 को आगरा के क्लार्क शिराज होटल में मुम्बई के जसलोक अस्पताल के डॉक्टर एच वी चंदोलिया, महानिदेशक चिकित्सा शिक्षा उत्तर प्रदेश डॉक्टर के के गुप्ता और पद्मश्री डॉक्टर दया किशोर हाज़रा ने दीप प्रज्वलित कर किया। इस अवसर पर वक्ताओं ने कहा कि अगर डायबिटीज़ को कंट्रोल नहीं किया गया तो हमारा देश डायबिटीज़ के रोगियों के मामले में आगे हो जाएगा। वक्ताओं ने सुझाव दिए कि डायबिटीज़ पर काबू पाने के लिए लोगों को खान-पान, रहन-सहन और परहेज के प्रति जागरूक बनाना होगा। 
   कॉन्फ्रेंस में डॉक्टर के के त्रिपाठी, डॉक्टर सुनील बंसल, डॉक्टर ऐ के गुप्ता, डॉक्टर शैलेन्द्र शर्मा, डॉक्टर अशोक शिरोमणि, डॉक्टर पवन गुप्ता, डॉक्टर शम्मी आदि ने कॉन्फ्रेंस के विभिन्न सत्रों में अपना सहयोग दिया। कॉन्फ्रेंस में डायबिटीज़ के रोगियों के लिए इन्सुलिन के उपयोग, ब्लड शुगर के परीक्षण आदि के सम्बन्ध में विचार किया गया तथा उपस्थित डॉक्टरों को विभिन्न उपयोगी जानकारी भी दी गयी। कॉन्फ्रेंस में उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड राज्यों के करीब चार सौ डॉक्टरों ने भागीदारी निभाई है।(न्यूज़लाइन समाचार)