Saturday, February 16, 2013

हनुमानजी की उपासना से मिलेगा रोज़गार

योग्यता और अनुभव के अनुसार एक अच्छी नौकरी अथवा रोज़गार की अभिलाषा हर मनुष्य की होती है। इसके लिए वह प्रयास भी करता है। परन्तु कई बार अथक प्रयासों के बावजूद भी अपेक्षित सफलता नहीं मिल पाती है। इस स्थिति में ईश्वर की शरण में जाकर प्रार्थना करके रोज़गार के लिए प्रयास किये जाते हैं।
 किसी मनुष्य की जन्म कुंडली में नौकरी का योग है अथवा स्व रोज़गार का, इस बात की जानकारी कुंडली के अध्ययन से की जा सकती है। वहीं तंत्र शास्त्र में दिए गए उपायों को करके नौकरी अथवा रोज़गार का सपना साकार किया जा सकता है।
रोज़गार प्राप्त करने के इच्छुक बेरोजगारों को प्रत्येक शनिवार के दिन मारुति नंदन हनुमानजी की उपासना करके सुन्दरकाण्ड का पाठ अवश्य करना चाहिए। हनुमानजी के मंदिर में शुद्ध घी का दीपक जलाकर लाल चन्दन अथवा मूंगा की माला की सहायता से एक सौ आठ बार '' कवन सो काज कठिन जग माहीं।जो नहीं होय तात तुम पाहीं।'' मन्त्र का जाप करना चाहिए। कार्य सिद्ध होने पर शनिवार के दिन सवा किलो बूंदी के लड्डू का भोग लगाकर वितरित कर देना चाहिए। घर पर भी प्रतिदिन इस मन्त्र का जाप करते रहने से शीघ्र फल की प्राप्ति होती है।
किसी नौकरी हेतु साक्षात्कार के लिए पूरी तैयारी करना बहुत आवश्यक है। साथ ही यदि उस दिन लाल चन्दन की माला से ग्यारह बार श्री गणेशजी की प्रतिमा अथवा चित्र के समक्ष '' ॐ वक्र्तुण्डाय हुं '' मन्त्र का जाप करके शुद्ध चित्त भाव से प्रार्थना की जाये तो बेरोजगारी की समस्या से छुटकारा मिल सकता है। श्री गणेशजी की आराधना करते समय भगवान शिव, माता पार्वती और नंदी देव का ध्यान  भी अवश्य करना चाहिए।-- प्रमोद कुमार अग्रवाल