Friday, March 2, 2012

प्यार के रंग, होली के संग.

प्यार के रंग, 
होली के संग. 
स्वार्थ के लिए, 
करें न बदरंग.
खेलें होली 
बांटें सदभाव,
भुला के 
गिले-शिकवे
करें सबसे प्यार.
न हो 
मन में कटुता, 
न हो 
भेदभाव.
बहे
प्यार की गंगा,
उड़े 
अबीर गुलाल 
मनाओ
 इस तरह
 होली 
न रहे
कोई मलाल.  
-- प्रमोदकुमार अग्रवाल



सफलता के लिए सीखें

कहते हैं सीखने की कोई उम्र नहीं होती.कभी भी और किसी भी उम्र में कुछ भी अच्छा सीखा जा सकता है. जीवन में सफलता हासिल करने के लिए हमें जीवन भर कुछ न कुछ नया सीखने के लिए प्रयासरत रहना चाहिए. हम चाहे नौकरी पेशे वाले हों या फिर कोई व्यापार करते हों, हमें जब भी समय मिले अपनी रूचि के विषय के अनुसार नया सीखने की कोशिश करते रहना चाहिए. हमारी यह आदत हमें औरों की तुलना में बेहतर बना देगी और हम अपने कार्य क्षेत्र में हमेशा आगे बने रह सकेंगे.-- प्रमोद कुमार अग्रवाल