Friday, January 13, 2012

सोच-समझ कर करें मतदान

मतदान करने की जिम्मेदारी प्रत्येक उस व्यक्ति की है जिसका नाम मतदाता सूची में दर्ज है. योग्य, ईमानदार और समाज में साफ़-सुथरी छवि रखने वाले प्रत्याशी को ही अपना वोट देने का संकल्प सभी मतदाताओं को लेने की आवश्यकता है क्योंकि मतदाताओं के केवल अच्छे प्रत्याशी को ही वोट देने के सही निर्णय से ही देश के निर्माण और संपूर्ण विकास के लिए समर्पित विधान सभाओं का गठन संभव है.
मतदाताओं को बिना  किसी भय, लालच और स्वार्थ के अपने वोट का प्रयोग करना होगा. मतदाताओं को यह समझना  होगा कि उनका एक-एक वोट कीमती है. यदि मतदाता अपने राज्य में ईमानदार, निष्पक्ष,  योग्य और देश के लिए समर्पित जन-प्रतिनिधिओं  की सरकार चाहते हैं तो  उन्हें अपना वोट सोच-समझकर ही डालना होगा और अनिवार्य रूप से वोट डालने के लिए अपने साथी मतदाताओं को भी जागरूक करना होगा. 
मतदाताओं की जागरूकता का सीधा अर्थ है समाज और देश का संपूर्ण विकास. तो आईये एक जागरूक मतदाता के रूप में हम अपने देश के प्रति इस जिम्मेदारी का निर्वहन करते हुए मतदान अवश्य करें और हाँ, मतदान के लिए जाते समय अपने साथ वोटर आई डी कार्ड अथवा चुनाव आयोग द्वारा मान्य कोई भी एक पहचान पत्र अवश्य ले जाएँ वरना आपको मतदान करने से रोका जा सकता है. -- प्रमोद कुमार अग्रवाल