Wednesday, May 18, 2011

नाम के लिए काम ज़रूरी

जीवन में हर इंसान चाहता है कि उसका नाम हो और लोग उसे उसके नाम और काम से जानें. इसके लिए वह जीवन भर कोशिश करता है, लेकिन हर इन्सान के भाग्य में नहीं होता है कि  उसके नाम से उसकी  पहचान हो. साफ़-सुथरी छवि को बनाना और उस छवि को बनाये रखना आसान नहीं है. समाज में अच्छी छवि उन्हीं लोगों की बनती है जो हमेशा समाज के हित में स्वार्थ की भावना को त्याग करके काम करते हैं और अपने अन्दर आदर्श गुणों को आत्मसात करते हैं.
समाज, देश और संसार में नाम करने के लिए हर कोई अपने-अपने तरीके से प्रयत्नशील रहता है. नए-नए रिकोर्ड बनाना, खेल,शिक्षा, ज्ञान-विज्ञान राजनीति, सर्विस, व्यापार, व्यवसाय आदि  सभी क्षेत्रों  में काम करने वाले लोग यही कोशिश करते हैं कि वे उस क्षेत्र में इतनी तरक्की करें कि लोग उसके नाम और काम से जानने लगें. कोशिश करने वालों की कभी हार नहीं होती, इस बात में  कोई  संदेह नहीं. यदि हम चाहते हैं कि हमारा नाम हो तो हमें हमेशा अपने-अपने कार्य क्षेत्र में रहते हुए जन हित के कार्य करने चाहिए और कोई भी ऐसा कार्य नहीं करें जिससे हमारे नाम पर धब्बा लगे. यक़ीनन हमारी ये कोशिश हमें समाज में बेहतर जगह दिलाएगी तथा लोग हमारे नाम से हमें जानेंगे. --- प्रमोदकुमार अग्रवाल