Monday, December 20, 2010

घर से बेघर माता-पिता कानूनी कार्यवाही कर सकेगें

अपने माता-पिता को घर से बेघर करने वाले बेटों के खिलाफ भी अब बुज़ुर्ग माता-पिता कानूनी कार्यवाही कर सकेगें. इसके लिए केन्द्रीय सरकार द्वारा वरिष्ठ नागरिक भरण पोषण अधिनियम, 2007  बनाया गया है. इस कानून के विभिन्न  प्रावधानों   के तहत बुजुर्ग माता-पिता द्वारा अपनी संपत्ति अपने बेटे / बेटों के नाम कर दिए जाने के बाद यदि उनके बेटे उन्हें घर से बेघर कर देते हैं और उनका भरण-पोषण नहीं करते हैं तो वे अपने लिए दस हज़ार रुपये तक के  भरण-पोषण की मांग करते हुए अपनी संपत्ति को वापस ले सकते हैं इसके लिए जिला स्तर पर एक ट्रिबुनल के गठन का प्रावधान इस कानून में किया गया है. बुज़ुर्ग माता-पिता द्वारा ट्रिबुनल में शिकायत किये जाने की तारीख से 90  दिन के अन्दर भरण-पोषण दिए जाने का आदेश पारित करने अथवा आधारहीन शिकायत को ख़ारिज किए जाने का  अधिकार ट्रिबुनल को प्राप्त है.-- प्रमोद कुमार अग्रवाल